कुसुम योजना के तहत सस्ते में लगवाएं सोलर पंप (How to apply for solar pump)

How to apply for solar pump – पीएम कुसुम योजना (PM Kusum Scheme ) का मतलब है, ‘प्रधानमंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा और उत्थान महाभियान’। यह योजना 2019 में नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय द्वारा शुरू की गई थी। फरवरी 2019 में, Economic मामलों की मंत्रिमंडलीय कमेटी ने इस योजना को लागू करने की मंजूरी दी थी।

कुसुम योजना का main purpose किसानों को सोलर प्लांट का use करके बिजली पैदा करना है। अपनी जमीन पर इसका सही use करके भारत में सोलर प्लांट को बढ़ाना है। इसके लिए 2018-19 में 10 साल के लिए 48000 रुपये का limitation दिया गया था। (How to apply for solar pump)

सरकार ने कुसुम योजना के तहत किसान income support और डी-डीजलिंग कंपोनेंट्स दिए, जिससे पंपों के जगह खेती फीडरों को सोलराइज करने पर फोकस बढ़ेगा और इससे गांव के हर पंप को सोलर पंप से बदलने की जरूरत नहीं होगी, जिससे खेती की लागत कम हो जाएगी और किसानों की आमदनी बढ़ेगी। कुसुम योजना का लाभ किसान, किसानों का समूह, सहकारी समितियां, पंचायत, किसान producer organization और जल consumer एसोसिएशन को मिलेगा। (How to apply for solar pump)

केंद्रीय बजट 2020-21 ने 20 लाख किसानों को स्टैंडअलोन सोलर पंप लगाने में मदद करके इस योजना को आगे बढ़ाया है। किसानों की बंजर जमीन के प्रयोग से लगभग 10000 मेगावाट सोलर यंत्र लगाने के लिए किया जाएगा।

इन बंजर जमीन पर लगे हुए सोलर ऊर्जा यंत्रो का प्रयोग करके इनसे होने वाली बिजली राज्य बिजली वितरण कंपनियों द्वारा खरीदी जाएगी, जिन्हें DISCOMS भी कहा जाता है। DISCOMS इस बिजली को खरीदने के लिए सब्सिडी भी ले सकते है। इस योजना के मदद से किसानों को सोलर पंपों पर लगभग 60% की सब्सिडी दी जाएगी और यह सब्सिडी Direct Benefit Transfer (DBT) का use करके किसानों के बैंक खातों में सीधे जमा हो सकती है। (How to apply for solar pump)

कुसुम योजना के कॉम्पोनेंट्स (How to apply for solar pump)

सोलर पंप distribution : कुसुम योजना के पहले चरण में केंद्र सरकार के विभागों के साथ मिलकर बिजली विभाग, सोलर ऊर्जा operated पंप बाटेंगे । 

सोलर ऊर्जा कारखाने का construction : सोलर ऊर्जा के कारखानों का construction किया जाएगा जो काफी मात्रा में बिजली बनाने की capability रखते हैं।

ट्यूबवेल का developed : सरकार द्वारा ट्यूबवेल की develop की जाएगी जो कि कुछ fix quantity में बिजली produce करेगी।

अभी के पंपों का modernization : अभी के पंपों का modernization भी किया जाएगा और पुराने पंपों को नए सोलर पंपो से बदला जाएगा।

कुसुम योजना  रजिस्ट्रेशन (How to apply for solar pump)

कुसुम योजना को ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीको से apply किया जा सकता है। इस योजना में सोलर ऊर्जा यंत्र को लगाने के लिए और जमीन लीज पर देने के लिए apply किया जा सकता है। जिन्होंने अपनी जमीन लीज पर देने के लिए रजिस्ट्री करवाया है उनकी लिस्ट आरआरईसी द्वारा official वेबसाइट पर दिख जाएगी। वे सभी नागरिक जो सोलर ऊर्जा यंत्र लगाने के लिए जमीन लीज पर लेना चाहते हैं वह applicant की लिस्ट आरआरईसी की वेबसाइट से देख सकते है, जिसके बाद वह रजिस्टर्ड applicant से संपर्क करके यंत्र लगाने के लिए apply कर सकते हैं।

यदि applicant द्वारा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन किया गया है, तो applicant को एप्लीकेशन आईडी मिलेगी। Applicant को ऑनलाइन apply में Apply Letter के प्रिंट आउट को अपने पास संभाल कर रखना होगा। यदि applicant द्वारा ऑफलाइन apply किया गया है, तो applicant को एक रसीद दी जाएगी जो की applicant को संभाल कर रखनी होगी। Apply करने के लिए applier द्वारा सभी जरुरी कागजात जमा करने होंगे।

कुसुम योजना के लिए जरुरी कागजात आधार कार्ड, राशन कार्ड, रजिस्ट्रेशन की कॉपी, ऑथराइजेशन लेटर, जमीन की settlement की कॉपी, मोबाइल नंबर, बैंक account description, पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ है। (How to apply for solar pump)

पीएम कुसुम योजना Registration Step

  • सबसे पहले State की agriculture department  की official वेबसाइट पर जाना है। 
  • उसके बाद होम पेज पर पीएम कुसुम registration के ऑप्शन पर क्लिक करना है। 
  • उसके बाद आपके सामने पीएम कुसुम apply फार्म आएगा। 
  • Apply फार्म में मांगी गई जानकारी fill करना है। 
  • उसके बाद documents को अपलोड करना है। 
  • उसके बाद सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करना है। 
  • इस तरह से पीएम कुसुम योजना में apply कर सकते है।

कुसुम योजना की Apply फीस (How to apply for solar pump)

कुसुम योजना में applicant को सोलर ऊर्जा यंत्र के लिए apply करने के लिए ₹5000 प्रति मेगावाट और जीएसटी की दर से apply फीस का भुगतान करना होगा। यह payment management director राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम के नाम से डिमांड ड्राफ्ट के रूप में किया जाएगा। Apply करने के लिए 0.5 मेगावाट से लेकर 2 मेगावाट तक के लिए apply फीस है। (How to apply for solar pump)

मेगा वाट               Apply फीस 

0.5 मेगावाट           ₹ 2500+ जीएसटी

1 मेगावाट               ₹5000 + जीएसटी

1.5 मेगावाट           ₹7500+ जीएसटी

2 मेगावाट               ₹10000+ जीएसटी

किसान द्वारा जमीन लीज पर देने पर

1 मेगावाट हेतु जमीन की जरुरत 2 हेक्टेयर

प्रति मेगावाट बिजली production      17 लाख यूनिट

permission लीज रेंट                           1.70 लाख से 3.40 लाख

Conclusion : केंद्र सरकार ने PM Kusum Yojana 2024 को शुरू किया है इस योजना का main purpose देश के किसानो को फ्री में बिजली provide करवाना है। इस योजना से किसानो को सिचाई के लिए सोलर पैनल की सुविधा प्रदान करते है, जैसे वह अपने खेतो कि अच्छे से सिचाई कर सकते हैं। इस कुसुम योजना 2024 के ज़रिये किसान को बहुत फायदा होगा और उनकी आमदनी में भी बढ़ोतरी होगी। दूसरा यदि किसान अधिक बिजली बनाकर ग्रिड को भेजते है। तो उन्हें उसकी कीमत भी मिलेगी। (How to apply for solar pump)

कुसुम योजना की हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क जानकारी :

Official Website – https://pmkusum.mnre.gov.in/

कांटेक्ट नंबर- 011-243600707, 011-24360404

Toll-Free नंबर- 18001803333

यह भी पढ़े-

किसानों को बहुत सस्ते दाम में मिलेंगे ड्रोन

CHECK करें, PM किसान निधि की 2000 रुपये की 13 वीं क़िस्त खातें में आई या नहीं !

Share Now:

Leave a Comment